भैंस गाभिन है या नहीं – 10 रुपए में ऐसे करें चेक, तुरंत पता चलेगा,जाने किस तरीके से ?

भैंस गाभिन है या नहीं

भैंस गाभिन है या नहीं – 10 रुपए में ऐसे करें चेक, तुरंत पता चलेगा,जाने किस तरीके से ?

भैंस गाभिन है या नहीं : पशुपालकों को यह पता लगाने में कई दिन लग जाते हैं कि भैंस गंभीर हो गई है या नहीं। कई बार पशुपालकों को भैंस की गंभीरता का पता चलता है या इतनी देर से नहीं कि तब तक भैंस भी दूध देना बंद कर देती है। इससे पशुपालकों को सीधा नुकसान उठाना पड़ता है और फिर भैंस जब तक बड़ी नहीं हो जाती तब तक दूध भी नहीं देती और फिर से दूध देती है. ऐसे में पशुपालक हमेशा इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि भैंस का गंभीरता से इलाज कराने के बाद भैंस रुक गई है या नहीं.

भैंस गाभिन है या नहीं : लेकिन अब आपको इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि अब आप घर पर ही पता लगा सकती हैं कि गर्भवती होने के बाद आपकी भैंस गर्भवती हुई या नहीं। गर्भवती न होने के कई कारण हो सकते हैं जिनका जानवरों की पलकों को ध्यान रखना पड़ता है।

भैंस गाभिन है या नहीं
भैंस गाभिन है या नहीं

10 रुपए में ऐसे करें चेक

भैंस गाभिन है या नहीं : भैंस के टकराने के बाद जब वस्तु का अंतिम समय होता है तो अंडे 5 से 10 घंटे के अंतराल पर नीचे आते हैं और भैंस के गंभीर होने का यही सही समय होता है। इसलिए पशुपालकों को भी इस बात का ध्यान रखना होगा। लेकिन फिर भी कई बार भैंस नहीं रुकती है तो अब आप घर पर ही इसके बारे में पता लगा सकेंगे। इस लेख में, हमने उनके बारे में आगे विस्तार से बताया है।

गाय-भैंस गर्भवती है या नहीं अब सिर्फ 10 रुपये में घर बैठे हो सकेगी जांच, जानें कैसे

भैंस गाभिन है या नहीं : जानकारों का कहना है कि अगर कोई भैंस गर्मी में आ जाए और समय रहते गर्भवती न हो जाए तो बड़ा नुकसान पशुपालक को होता है. क्योंकि जब तक भैंस गंभीर नहीं होती और बच्चे को जन्म नहीं देती, तब तक वह दूध देना भी शुरू नहीं करेगी। कई बार ऐसा होता है कि भैंस गर्मी में आ जाती है और पशुपालक उसे गंभीर बनाने की प्रक्रिया का पालन भी करता है, लेकिन किसी कारणवश भैंस गंभीर होने से बच जाती है। लेकिन पशुपालक को इस बारे में बहुत देर से पता चलता है और तब तक भैंस के गंभीर होने का समय खत्म हो चुका होता है।

इसी को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान (सीआईआरबी), हिसार और भारत सरकार के जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने संयुक्त रूप से प्रेग डी किट तैयार की है। 10 रुपये में मिलने वाली इस किट की मदद से अब घर बैठे ही गाय और भैंसों के गर्भ की जांच की जा सकेगी। किट पर शोध करने वाले संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. अशोक बल्हारा ने बताया कि यह किट जल्द ही बाजार में उपलब्ध होगी।

प्रेग डी किट से ऐसे होगी भैंस के गर्भधारण की जांच

सीआईआरबी के निदेशक टीके दत्ता ने किसान को बताया कि प्रेग डी किट एक जैव रासायनिक प्रक्रिया है। जब हम किट का उपयोग करके उस पर भैंस का मूत्र डालते हैं और मूत्र का रंग गहरा लाल या बैंगनी हो जाता है, तो इसका मतलब है कि भैंस गंभीर हो गई है। अगर किट पर पीला रंग या हल्का रंग दिखाई दे तो समझ लें कि भैंस अभी गंभीर नहीं है।

और एक खास बात यह है कि अगर आपका जानवर बीमार है तो यह किट 100 प्रतिशत परिणाम सही-सही नहीं बताएगी। और चेक करते समय इस बात का खास ख्याल रखें कि जब आप भैंस का पेशाब ले रहे हों तो पेशाब अपने सामान्य तापमान यानी 20 से 30 डिग्री सेल्सियस पर होना चाहिए।

 मिथुन पर भी कामयाब रहा है ट्रायल

हाल ही में, सीआईआरबी ने नागालैंड में मिथुन (पहाड़ी गोजातीय) पर इस प्रेग डी किट का सफल परीक्षण भी किया है। उत्तर-पूर्व के पहाड़ी इलाकों में मिथुन जानवर बहुत पाए जाते हैं। वे समुद्र तल से तीन हजार मीटर की ऊंचाई तक उगाए जाते हैं। कुछ दिन पहले आईसीएआर के डीडीजी बीएन त्रिपाठी, सीआईआरबी के निदेशक टीके दत्ता और नेशनल जेमिनी रिसर्च इंस्टीट्यूट, नागालैंड के निदेशक गिरीश पाटिल भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

प्रेग डी किट का करें इस्तेमाल

अब सभी पशुपालकों को यह जांचने के लिए प्रेग डी किट का उपयोग करना चाहिए कि उनकी भैंस गंभीर है या नहीं। इस किट को केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान (सीआईआरबी), हिसार और जैव प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। इसकी मदद से अब पशुपालक अपने घर पर ही भैंस की गंभीरता का आसानी से पता लगा सकते हैं।

निष्कर्ष – भैंस गाभिन है या नहीं

इस तरह से आप अपना भैंस गाभिन है या नहीं से संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की भैंस गाभिन है या नहीं के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है

ताकि आपके भैंस गाभिन है या नहीं से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके|

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें भैंस गाभिन है या नहीं की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|

Source:- Internet

Home Pagenew
Click Here
Join TelegramnewClick Here
x
कर्जदारों को मिलेगी बड़ी राहत, अब इन लोगों का लोन होगा माफ, जाने कौन कौन होंगे लाभार्थी आंगनवाड़ी सुपरवाइजर भर्ती के लिए आवेदन शुरू,जाने आवेदन की अंतिम तिथि ₹ 2 लाख रुपय वाली की सेलेक्शन लिस्ट जारी, फटाफट ऐसे करें सेलेक्शन लिस्ट मे अपना नाम चेक SSC ने लागू किया वन टाइम रजिस्ट्रेशन, अब उम्मीदवारों को करना होगा अपना OTR Registration और जाने पूरी जानकारी हमारे वेबसाइट पर 28 फरवरी को जारी होगी 16वीं किस्त, नहीं किया ये काम तो नहीं मिलेगा 2000 रुपया