Seed Grant Scheme:- महिला किसानों को सरकार की ओर से मुफ्त बीज मिलेगा

Seed Grant Scheme

Seed Grant Scheme: महिला किसानों को सरकार की ओर से मुफ्त बीज मिलेगा

Seed Grant Scheme:- जानिए, क्या है राज्य सरकार की बीज किट अनुदान योजना और इसके फायदे
किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिससे खेती की लागत कम हो सके और किसान फसल बेचकर अधिक लाभ प्राप्त कर सके।

इसके लिए किसानों को बीज, खाद, कृषि यंत्र की खरीद पर सरकार द्वारा सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है, ताकि हर किसान इन चीजों को आसानी से खरीद सके। इसी क्रम में राजस्थान सरकार इस रबी सीजन में किसानों को मुफ्त में बीज दे रही है। Seed Grant Scheme

बताया जा रहा है कि ये बीज प्रमाणित और अधिक उपज देने वाले उन्नत किस्म के बीज हैं, जिससे किसानों की फसल उत्पादकता बढ़ेगी. ये बीज महिला किसानों को नि:शुल्क दिए जा रहे हैं। जबकि अन्य किसानों को बीज पर अनुदान का लाभ नियमानुसार दिया जायेगा. कृषि में महिला किसानों की बढ़ती भागीदारी को देखते हुए राज्य सरकार ने इन किसानों को मुफ्त बीज देने का फैसला किया है Seed Grant Scheme

आज ट्रैक्टर जंक्शन की इस पोस्ट में हम बीज अनुदान योजना राजस्थान की जानकारी साझा कर रहे हैं। इसमें आपको इस योजना में महिलाओं को मुफ्त बीज कैसे मिलेगा इसकी पूरी जानकारी दी जा रही है जिससे राज्य की अधिक से अधिक महिला किसानों को बीज सब्सिडी योजना का लाभ मिल सके। तो हमारे साथ बने रहें।

जिन फसलों के बीज नि:शुल्क वितरित किए जाएंगे- Seed Grant Scheme

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के तहत राजस्थान बाजरा प्रोत्साहन मिशन और राजस्थान बीज उत्पादन और वितरण जैसे कई मिशनों के माध्यम से राज्य की महिलाओं को आत्मनिर्भर और आत्मनिर्भर बनाने के लिए सशक्त बनाया है। . का ज्वार उपलब्ध कराया जा रहा है। जई, बाजरा जैसी कई प्रकार की फसलों के बीजों की मिनी किट नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। राज्य की महिलाएं इसमें आवेदन कर इसका लाभ उठा सकती हैं।

महिला किसानों को मुफ्त बीज क्यों दिया जा रहा है?

बुवाई से लेकर कटाई तक कृषि में महिलाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। ऐसे में महिलाओं को योजना का अधिक से अधिक लाभ मिलने से न केवल कृषि में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित होगी बल्कि राज्य और देश की अर्थव्यवस्था में उनका योगदान भी बढ़ेगा. महिलाओं को नि:शुल्क बीज उपलब्ध कराने से प्रदेश में न केवल खरीफ फसलों का उत्पादन बढ़ा है बल्कि इस बार रबी में अधिक रकबा बोया गया है।

अब तक 54 लाख महिलाओं को नि:शुल्क बीज वितरित किए जा चुके हैं

Seed Grant Scheme
Seed Grant Scheme

राजस्थान के कृषि आयुक्त कानाराम ने बताया कि योजना के तहत कृषि विभाग ने पिछले 4 साल में रबी और खरीफ सीजन में कुल 54 लाख 30 हजार 781 महिला किसानों को मुफ्त बीज मिनीकिट का वितरण किया है. इसमें से वर्ष 2022-23 में अब तक 26 लाख 6 हजार 977 महिला कृषकों को नि:शुल्क मिनी किट का वितरण किया जा चुका है। Seed Grant Scheme

अब किस फसल के लिए कितने मिनी किट बांटे गए हैं?

बीज अनुदान योजनान्तर्गत 8 लाख 11 हजार 52 सरसों 2 एवं 3 किग्रा बीज, 8 लाख 60 हजार 610 बीज बाजरा, 7 लाख 95 हजार 774 बीज 5 किग्रा मक्का, 8 किग्रा मसूर, 22 हजार 475 महिला कृषक अलसी दो-दो किलो बीज दिया गया। 4 हजार 144 मिनी किट, चार किलो के 26 हजार 315 मिनी किट बांटे गए हैं। वहीं, पशुपालकों को 60 हजार मिनी किट हरा चारा (रिजका, बरसीम, जई) के साथ खरीफ चारे की 59 हजार 882 मिनी किट वितरित करने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें से 26 हजार 725 मिनी किट अब तक उपलब्ध हो चुकी हैं. महिला किसानों को दिया गया है। नि:शुल्क वितरण किया गया।Seed Grant Scheme

निःशुल्क बीज योजना का लाभ किन महिला किसानों को मिलेगा

योजनान्तर्गत मिनीकिट वितरण में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिला कृषकों को प्राथमिकता दी जा रही है। इसके साथ ही जमीन महिला के पिता, पति, ससुर के नाम होने पर भी मिनीकिट महिला के नाम दी जाएगी। एक महिला को मिनीकिट का एक पैकेट ही दिया जाएगा।

  • भारत में लोकप्रिय नए ट्रैक्टरों की कीमत देखने के लिए यहां क्लिक करें।
  • महिला किसानों को मुफ्त में बीज कहां से मिल सकता है
  • बीज कृषि आयुक्त कानाराम ने बताया कि मिनीकिट का वितरण संबंधित कृषि पर्यवेक्षक के माध्यम से किया जाता है. उन्होंने कहा कि जन आधार कार्ड के माध्यम से ही मिनीकिट का वितरण किया जा रहा है। अधिक जानकारी के लिए किसान नजदीकी कृषि कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं या किसान कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर 1800-180-1551 पर बात कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

निःशुल्क बीज अनुदान योजना के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी

निःशुल्क बीज अनुदान योजना के तहत आवेदन करना होगा। इसके बाद आपको बीज उपलब्ध करा दिया जाएगा। आवेदन के लिए आपको जिन मुख्य दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, वे इस प्रकार हैं- Seed Grant Scheme

  • आवेदन करने वाली महिला किसान का आधार कार्ड
  • आवेदन करने वाली महिला किसान का राशन कार्ड
  • आवेदन करने वाली महिला का किसान कार्ड
  • खेत की जमीन के कागजात
  • महिला किसान का फोन नंबर जो आधार से लिंक है।

Important link:-

Official LinkClick here
Join telegramClick here

 

x